BilaspurCHHATTISGARHCRIMEGaurella-Pendra-Marwahi

अमेजान से मंगाया चाकू,प्रेमिका को घोंपा

0 SBI गौरेला के सामने हुई युवती की निर्मम हत्या के मामले में जीपीएम पुलिस ने नाकेबंदी कर चंद घंटों में पकड़ा आरोपी
गौरेला-पेंड्रा-मरवाही। बुधवार को दोपहर लगभग 12:30 बजे एसबीआई गौरेला के सामने एक युवती रंजना यादव 21 वर्ष निवासी झगराखंड गौरेला पर ताबड़तोड़ चाकू से हमला कर हत्या करने वाले आरोपी को जीपीएम पुलिस ने पकड़ लिया है। आरोपी का नाम दुर्गेश प्रजापति है जिसकी उम्र लगभग 29 साल है मूलतः ग्राम लोहारी मरवाही का रहने वाला है और मरवाही चिचगोहना रोड पर स्थित मां नागेश्वरी पेट्रोल पंप पर काम करता है। आरोपी पहले से शादी शुदा है जिसे पहली पत्नी से एक पांच साल की बेटी है जो इसे छोड़कर चली गई जिसके बाद इसने दुबारा लव मैरिज की जिससे एक 2 साल की बेटी है इसी बीच आरोपी ने विगत तीन वर्ष से रंजना से संबंध बना रखे थे । विगत एक दो माह से दोनो का विवाद चल रहा था और लड़की आरोपी युवक से बात नहीं करना चाह रही थी और पीछा छुड़ाना चाहती थी पर युवक उसे बार बार एप्रोच कर रहा था।
आरोपी ने कुछ दिन पहले अमेजन से एक डैगर (चाकू) आर्डर कर मंगाया था। आज सुबह वह पेट्रोल पंप पर अपनी ड्यूटी से जल्दी निकलकर तैयारी के साथ डैगर लेकर निकला था और युवती के घर जाकर उसके निकलने का इंतजार करने लगा। जैसे लड़की निकली उसका पीछा करते हुए उसे कई बार रोकने की कोशिश की जो बाद में एसबीआई गौरेला के पास रुकने पर बहस करने लगा उसी दौरान युवती द्वारा अपने घर वालों को बताऊंगी और बुलाऊंगी बोलने पर गुस्से में आरोपी ने रंजना की पीठ पेट और गले पर डैगर से ताबड़तोड वार किया जिससे उसकी मौके पर मृत्यु हो गई। घटना का सीसीटीवी फुटेज और चश्मदीद गवाह से पूछताछ करते हुए पुलिस को आरोपी की जानकारी मिली शिनाख्त होते ही एसपी जीपीएम आईपीएस भावना गुप्ता ने नेतृत्व करते हुए अब तक पुलिस को अपने मुखबिरों और साइबर से मिली जानकारी के आधार पर आरोपी के हुलिए और वाहन की जानकारी सभी एसडीओपी और थाना प्रभारी को देते हुए नाकेबंदी लगवाई।
एडिशनल एसपी ओम चंदेल की मॉनिटरिंग में नाकेबंदी व्यवस्था लगाई गई जिस दौरान थाना मरवाही पुलिस की एक टीम को चिचगोहना मरवाही रोड पर आरोपी दिखा जो पुलिस को देखकर कच्चा रास्ता लेकर भागने लगा जिसे घेराबंदी कर पकड़ा गया।
वर्तमान में आरोपी को गौरेला पुलिस को सुपुर्द कर दिया गया है और हिरासत में लेकर आरोपी से पूछताछ और साक्ष्य संकलन किया जा रहा है। साइबर सेल जीपीएम और सभी थानों की टीमों के कोऑर्डिनेशन और रियल टाइम इनपुट शेयरिंग के कारण महज कुछ घंटे में आरोपी की शिनाखतगी और धर पकड़ में सफलता हासिल की गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button