CHHATTISGARHKORBARaipur

करोड़ों के ऑक्सीजोन पर 9 लाख बकाया,बिजली काटी विभाग ने


कोरबा। ऑक्सीजोन के रूप में विकसित की गई टीपी नगर स्थित अशोक वाटिका के दिन अच्छे नहीं चल रहे हैं। यहां के बिजली कनेक्शन को लेकर विवाद की स्थिति के बीच सीएसईबी ने लाइन काट दी है। 9 लाख से अधिक का बिल नगर निगम को भेजा गया है। नगर निगम और वाटिका के ठेकेदार के चक्कर में लाइन कटने से यहां के संसाधन ठप हो गए हैं। अव्यवस्था के कारण एक पखवाड़े से सुबह-शाम टहलने के लिए यहां आने वाले लोग परेशान हैं।
पिछले वर्षों में प्रदेश सरकार ने कोरबा की अशोक वाटिका को संवारने का निर्णय लिया था। 10 करोड़ रुपए खर्च करने के साथ इसे नया कलेवर दिया गया। 15 एकड़ क्षेत्रफल में विस्तारित अशोक वाटिका ने नए पेड़-पौधे लगाए गए और लोगों को आकर्षित करने के लिए कई म्यूजिकल फाउंटेन के अलावा अन्य संसाधन भी स्थापित किये गए। बच्चों से लेकर युवाओं और अन्य लोगों के मनोरंजन के लिए यहां सुविधाएं मुहैया कराई गई। प्रतिदिन सुबह-शाम हजारों की संख्या में विभिन्न क्षेत्रों के लोगों की पहुंच यहां सैर करने के लिए सुनिश्चित होती है। इस इरादे से नगर निगम ने अशोक वाटिका के भीतर नेचुरल ट्रैक तैयार किया। आराम के कई घंटे बिताने के साथ लोगों को यहां से शुद्ध वायु प्राप्त होती रही। अशोक वाटिका में इलेक्ट्रिक से चलने वाले उपकरण और पेड़-पौधों को उनकी जरूरत के लिए पानी उपलब्ध कराने हेतु पूर्व के वर्षों में फारेस्ट के नाम पर एक विद्युत कनेक्शन हुआ करता था, ऐसी जानकारी है। बाद में यहां बिजली का उपयोग दूसरे तरीके से किया जा रहा था। पिछले दिनों सीएसईबी ने औचक निरीक्षण करने के साथ इस मामले को अनुचित श्रेणी में पाया और डिस्कनेक्शन की कार्रवाई कर दी। तब से अब तक यहां बिजली सुविधा शून्य है। ऐसे में अशोक वाटिका के सभी उपकरण ठप हैं और पेड़-पौधों को उनकी जरूरत के हिसाब से पानी नहीं मिल पा रहा है। गर्मी के मौसम में वे संकट की स्थिति में है। नगर निगम आयुक्त के नाम से अशोक वाटिका के बाहर एक नोटिस चस्पा कर दिया गया है जिसमें 22 से 27 मार्च तक इसे बंद रखने की जानकारी दी गई है। लोग हर दिन यहां पहुंचते हैं और बाहर से ही लौट जाते हैं। पूरे मामले में अलग-अलग जानकारी मिलने से लोग कुल मिलाकर नाखुश हैं। प्रकरण में नगर निगम आयुक्त प्रतिष्ठा ममगाई से विद्युत कनेक्शन और नोटिस को लेकर जानकारी ली गई तो उनका जवाब था इसे दिखवाया जाएगा।
बकाया नहीं देने पर नोटिस
अशोक वाटिका में बिजली का उपयोग करने और बिल अदा नहीं करने पर नगर निगम को 9 लाख रुपए से ज्यादा का नोटिस दिया गया है। वह भुगतान कैसे कराता है, जिम्मेदारी उसकी है। बिल अदा होने पर ही कनेक्शन जोड़ा जाएगा।
एई, सीएसईबी कोरबा जोन
एक-दो दिन में होगा भुगतान
अशोक वाटिका के विद्युत कनेक्शन को डिस्कनेक्ट करने की कार्रवाई सीएसईबी के द्वारा की गई। इससे असुविधा उत्पन्न हुई है। नोटिस के परिप्रेक्ष्य में भुगतान की कार्यवाही एक-दो दिन में कर दी जाएगी।
ए.के.शुक्ला, प्रभारी, टीपी नगर जोन

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button