BilaspurCHHATTISGARHJanjgir-ChampaKORBAKoriyaNarayanpurRaipurSaktiSarangarh-BilaigarhSurajpurSurguja

जनजातियों को ठगी से बचाने किया जागरुक

0 आदिवासी विकास विभाग ने लगाया वित्तीय विधिक जागरूकता शिविर ,170 पहाड़ी कोरवा बिरहोर हुए लाभान्वित

0 कहा गया- बहकावे में न आएं ,प्रलोभन देने ,कोरे कागज पर दस्तखत लेने वालों से दूर रहें ,मनमानी पर तुरंत बताएं

कोरबा। जिले के विशेष संरक्षित जनजातियों को ठगी से बचाने के लिए जिला प्रशासन के निर्देशानुसार गुरुवार को आदिवासी विकास विभाग ने अनुकरणीय पहल की। कोरबा विकासखंड के ग्राम सतरेंगा में पहाड़ी कोरवा एवं बिरहोर समुदाय निमित्त वित्तीय एवं विधिक जागरूकता शिविर सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्रीकांत कसेर के निर्देशन में आयोजित किया गया। शिविर में 170 पहाड़ी कोरवा एवं बिरहोर जनजाति के लोग शामिल हुए।

जिले मे निवासरत् विशेष पिछड़ी जनजाति पहाड़ी कोरवा एवं बिरहोर समुदाय के शिक्षित युवक-युवतियों को विभिन्न शासकीय विभागों में तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के पदों पर नियमित,कलेक्टर दर एवं दैनिक मजदूरी पर रखा गया है। इस समुदाय में वित्तीय लेनदेन के बारे में जागरूकता का अभाव होने के कारण कई असामाजिक तत्वों द्वारा इनके भोलेपन का फायदा उठाकर इनके नाम पर लोन, एटीएम से पैसे आहरण, कोरे चेक पर हस्ताक्षर या अन्य माध्यम से ठगी किये जाने के मामले सामने आ रहे हैं। हाल ही में जिले में ठगी का मामला प्रकाश में आया था ,जिसमें सुन्दर साय पहाड़ी कोरवा भृत्य पूर्व माध्यमिक शाला देवपहरी से ठगी करते हुए कोरे चेक में हस्ताक्षर कराकर मोटी रकम हड़प ली गई थी। कलेक्टर अजीत वसंत के द्वारा इस गंभीर मामले को संज्ञान में लेते हुये तत्काल ठगी की गई राशि वापस दिलाई गई।

कलेक्टर श्री वसंत के निर्देशानुसार एवं सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्रीकांत कसेर के नेतृत्व में आगामी भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के उद्देश्य से आदिवासी विकास विभाग एवं लीड बैंक के माध्यम से इन जनजातियों को ठगी से बचाने तथा वित्तीय लेनेदेन संबंधी विस्तृत जानकारी शिविर के माध्यम से दी गई। शिविर में देवेन्द्र पाटले सहायक संचालक आदिवासी विकास कोरबा, कौशाम्बी गबेल मण्डल संयोजक, नरोत्तम सिंह ठाकुर लीड बैंक मैनेजर, विजय कुमार FLCC, कृष्णा यादव CFL करतला आदि उपस्थित थे।।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button