BalodBaloda BazarBalrampurBastarBemetaraBijapurBilaspurCHHATTISGARHDantewadaDhamtariDurgGariabandGaurella-Pendra-MarwahiJanjgir-ChampaJashpurKabirdhamKankerKhairagarh-Chhuikhadan-GandaiKondagaonKORBAKoriyaMahasamundManendragarh-Chirmiri-BharatpurMohla-Manpur-ChowkiMungeliNarayanpurRaigarhRaipurRajnandgaonSaktiSarangarh-BilaigarhSukmaSurajpurSurguja

जब सरोज से पूछा-चुनाव हारने के बाद….

0 एक दिन पहले शाह ने कहा कठिन सीट,आज सवाल में हार….. असहज नजर आईं पत्रवार्ता में

कोरबा।….अगर आप चुनाव हार गई तो…., सवाल का यह पहला वाक्य पूरा होते ही भाजपा उम्मीदवार सरोज पांडे चौक पड़ी। उनके आसपास मौजूद भाजपाईयों सहित उपस्थित पत्रकार भी ठहाका मार कर हंस पड़े लेकिन सरोज पांडे ने इस सवाल का जवाब अंत तक नहीं दिया।
दरअसल यह वाकया आज बुधवार को होटल महाराजा में भाजपा प्रत्याशी सरोज पांडे द्वारा ली जा रही पत्रवार्ता के दौरान हुआ। सरोज पांडे ने कोरबा के विकास को लेकर अपना एजेंडा प्रस्तुत किया। इसके बाद सवाल-जवाब की कड़ी में एक पत्रकार ने पूछ लिया कि …अगर आप चुनाव हारती हैं तो.. सवाल सुनते ही सरोज पांडे ने एक अभिनेत्री की तरह चौक कर रिएक्शन दिया और बगल में मौजूद पूर्व महापौर जोगेश लांबा,जिलाध्यक्ष डॉ. राजीव सिंह सहित अन्य भाजपाई और उपस्थित पत्रकार ठहाके मार कर हंस पड़े। दरअसल पत्रकार का सवाल सरोज पांडे के घोषणा पत्र में शामिल माईनिंग इंस्टीट्यूट से जुड़ा हुआ था। इस सवाल पर पत्रकार ने जवाब जानना चाहा कि अगर आप चुनाव हार जाती हैं तो भी क्या कोरबा में माइनिंग इंस्टिट्यूट के लिए प्रयास करेंगे? लेकिन यह सवाल पूछने से पहले ही माहौल बदल गया। एक अन्य वरिष्ठ पत्रकार ने सवाल को साफ करते हुए आगे बढ़कर जवाब जानना चाहा लेकिन शोर-शराबे की आड़ में सरोज पांडे बिना जवाब दिए उठकर चली गईं।

बता दें कि लोकसभा चुनाव 2024 के तीसरे चरण का प्रचार अपने अंतिम दौर पर है। कोरबा में कांटे का मुकाबला है और ऐसे में भाजपा प्रत्याशी सरोज पांडे सवालों दर सवालों से घिरी नजर आ रही हैं। आज आयोजित पत्रवार्ता में वह कुछ असहज भी नजर आई जब उन्हें सवालों में घेरा।

0 सवाल-जवाब के कुछ अंश…
पत्रकारों ने उनसे पूछा कि पालक सांसद के नाते ग्राम कनकी का कितने बार दौरा किया और ग्राम कनकी में उन्होंने क्या काम किया? इसके जवाब में उन्होंने कहा, कि पालक सांसद जनता के प्रति नहीं, अपनी पार्टी के प्रति जिम्मेदार होता है और इसलिए वे कनकी कभी नहीं गई। उन्होंने छत्तीसगढ़ के पिछली कांग्रेस सरकार की नाकामयाबी के कारण आज कोरबा के ग्रामीण इलाकों में बिजली, पानी की समस्या होना बताया। जब उनसे कहा गया कि इसके पहले 15 साल बीजेपी और केंद्र में 10 साल से आपकी पार्टी की सरकार है तो आपने क्या किया? उनका कहना था कि जिम्मेदारी पांच साल सत्ता में रहे कांग्रेस सरकार की है। कल केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कोरबा संसदीय सीट को कठिन मानकर, सुश्री सरोज पांडे को उम्मीदवार बनाया है, क्या ऐसा है? इसके जवाब में उन्होंने कहा कि, इसका जवाब श्री शाह देंगे। दो बार महापौर, एक बार विधायक, एक बार सांसद दुर्ग से वे बनी हैं, चुनाव परिणाम चाहे जो भी आए, उनका स्थाई राजनीतिक कार्य स्थल कोरबा होगा या दुर्ग? इसके जवाब में उन्होंने कहा कि, भविष्य की बात का अभी कोई जवाब नहीं दिया जा सकता।
पत्रकार वार्ता के प्रारंभ में उन्होंने कोरबा लोकसभा के लिए तैयार संकल्प पत्र में लिखे बिंदुओं पर प्रकाश डाला जिसमें कोरबा में सुपर स्पेशलिटी अस्पताल, पर्यावरण संरक्षण के लिए कार्य, पर्यटन स्थल का विस्तार, माइनिंग कालेज खोले जाने की दिशा में कार्य करने की बात कही।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button