BilaspurCHHATTISGARHKORBARaipurTOP STORY

जयसिंह बोले,कोई गली-कोई मोहल्ला किसी की निजी जागीर नहीं…देखें वीडियो

कोरबा। प्रदेश के राजस्व मंत्री और कोरबा विधानसभा के कांग्रेस प्रत्याशी जयसिंह अग्रवाल की सभा मंगलवार की शाम को भाजपा प्रत्याशी के घर के समीप थी। इसे लेकर भाजपा प्रत्याशी के भाई नरेंद्र देवांगन के साथ मिलकर कुछ अराजक तत्वों ने इस सभा का विरोध करने का प्रयास किया जिसमें वह असफल रहे।

कांग्रेसी जैसे ही कोहड़िया पहुंचे उन्होंने बोलना शुरू किया। लोग भारी संख्या में सभा स्थल के आसपास एकत्र हो गए। सभी ने जय सिंह अग्रवाल की सभा में न सिर्फ अपनी उपस्थिति दर्ज कराई बल्कि उन्हें अंत तक सुना भी। सभा के बाद जय सिंह ने मीडिया से चर्चा करते हुए यह भी कहा कि यह मेरा विधानसभा क्षेत्र है और यहां के एक-एक मोहल्ले में जाना और वहां के लोगों की समस्याएं सुनना मेरा कर्तव्य है। जिले का कोई मोहल्ला किसी की निजी जागीर नहीं है। लोकतंत्र भारत में सर्वोपरि है। कोई व्यक्ति किसी को भी प्रचार करने से रोक नहीं सकता। लोग स्वत: मुझसे जुड़ रहे हैं। कोरबा विधानसभा में लोगों ने मेरे काम की सराहना की है। कांग्रेस की नीतियों से लोग बेहद प्रभावित हैं। मुझे जनता का व्यापक जनसमर्थन मिल रहा है।

0 विरोध का तरीका अलोकतांत्रिक, हो रही आलोचना

चारपारा कोहड़िया में लोगों ने विरोध का जो तरीका अपनाया वह अलोकतांत्रिक था। प्रत्याशी के भाई ने विरोध का प्रयास जरूर किया लेकिन वह सफल नहीं रहे। जयसिंह ने कहा कि हमें यह भी समझना होगा कि प्रत्येक व्यक्ति व प्रत्याशी कहीं ना कहीं अपने क्षेत्र में थोड़ा विशिष्ट स्थान रखता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं होता कि कोई दूसरे गांव या मोहल्ले का व्यक्ति वहां प्रवेश न कर सके। इस सोच को तिरोहित करना होगा। जिस भी पार्टी या व्यक्ति के समर्थको ने कोहड़िया चारपारा में अलोकतांत्रिक कृत्य किया है। जैसे-जैसे यह बात लोगों में फैल रही है, लोग इसकी आलोचना कर रहे हैं। इस तरह के कृत्य लोकतंत्र में बिल्कुल भी स्वीकार्य नहीं हैं।

0 भाजपा प्रत्याशी के पार्षद भाई की वार्डवासियों ने की शिकायत

चूंकि जयसिंह अग्रवाल कोरबा विधायक होने के साथ ही राजस्व मंत्री भी हैं तो वार्डवासियों ने भाजपा प्रत्याशी के पार्षद भाई नरेंद्र देवांगन की शिकायत भी की। वार्डवासियों ने कहा कि नरेंद्र देवांगन पैसे लेकर कोहड़िया के आसपास राख गिरवा रहे हैं। उन्होंने पत्र लिखकर राख पटवाने का अनुरोध किया था जिससे उन्हें पैसे मिले, जबकि मुसीबत हमें झेलनी पड़ रही है। पहले कोहड़िया में इतना प्रदूषण नहीं था लेकिन अब जीना दुश्वार हो गया है। हल्की सी हवा चलने पर घर आंगन में राख एकत्रित हो जाती है। यह सब भाजपा प्रत्याशी के भाई लखन नरेंद्र देवांगन की देन है जिससे हम त्रस्त हैं। वार्ड वासियों ने राजस्व मंत्री से इस दिशा में ठोस कार्यवाही करने का भी अनुरोध किया है। राख की राजनीति करने वाले भाजपा प्रत्याशी का चेहरा आज उनके ही घर में पूरी तरह से बेनकाब हो गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button