CHHATTISGARHCRIMEKORBA

जाल में मछली की जगह फंसी युवती की लाश, मछुआरे के होश उड़े


0 छह महीने पहले घर से निकली थी युवती तमिलनाडु जाने के लिए

कोरबा। हसदेव नदी के डुबान क्षेत्र में मछली पकड़ने के लिए लगाए गए जाल में एक युवती की लाश फंसी मिली। मृतक युवती की पहचान लिली राज के रूप में हुई है,जो छह माह पहले तमिलनाडु जाने के लिए निकली थी।
जानकारी के मुताबिक कोरबी पुलिस चौकी क्षेत्र के चारपारा के आसपास गांव में रहने वाले ग्रामीण हसदेव नदी के डुबान क्षेत्र में मछली पकड़ने के लिए जाल लगाते हैं। सोमवार शाम को झिनपुरी में रहने वाले शिवकुमार आयम ने भी जाल लगाया था। मंगलवार की सुबह करीब 8 बजे जाल निकालने डुबान क्षेत्र में पहुंचा तो जाल में मछली की जगह युवती की लाश फंसी देख घबरा गया। शिवकुमार ने गांव लौटकर घटना की जानकारी सरपंच को दी। सरपंच ने पुलिस को खबर किया तब चौकी प्रभारी अफसर खान टीम के साथ मौके पर पहुंचे। शव को बाहर निकलवाकर पहचान कराई गई तो यह ग्राम फुलसर में रहने वाले दीप सिंह राज ने हुलिया और कपड़े के आधार पर अपनी 35 वर्षीय पुत्री लिली राज के रूप में की है। उसने बताया कि लिली तमिलनाडु में रहकर सिलाई-कढ़ाई का काम करती थी। वह करीब छह माह पहले अप्रैल महीने में घर आई थी। थोड़े दिन घर में रहने के बाद पुन: तमिलनाडु जाने निकली थी। मृतका तमिलनाडु से कब लौटी,इसकी जानकारी परिजनों को भी नहीं है। ऐसे में पूरा मामला संदिग्ध लग रहा है। बहरहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजते हुए विवेचना शुरू कर दी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मौत का कारण स्पष्ट होने पर जांच को दिशा व गति मिलेगी।
0 बांगो से मंगाया मोटर बोट,तब निकली लाश
हसदेव नदी पुल से करीब एक किलो मीटर दूर मछली पकड़ने लगाए गए जाल में युवती की लाश फंसी थी। यह स्थान बहुत ज्यादा गहरा है जहां नाव अथवा मोटर बोट से ही पहुंचा जा सकता है। इस स्थान से शव बरामद करना पुलिस के लिए चुनौती थी। ऐसे में पुलिस को बांगो से मोटर बोट की व्यवस्था करनी पड़ी, तब कहीं जाकर शाम चार बजे शव बाहर निकाला जा सका।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button