BilaspurCHHATTISGARHKORBARaipur

दूसरा धर्म अपना चुके 101 परिवारों की हिन्दू धर्म में वापसी,समाज प्रमुखों का भी हुआ सम्मान

कोरबा-कटघोरा। धर्म सेना की ओर से कटघोरा के संस्कृतिक भवन में रविवार 24 दिसंबर को धर्मांतरण कर चुके परिवारों की घर वापसी कार्यक्रम रखा गया। यहां समाज प्रमुख सम्मान समारोह भी आयोजित किया गया। कार्यक्रम में हिंदू धर्म से दूसरे धर्म में गए 101 परिवारों की घर वापसी कराई गई।
धर्मसेना द्वारा आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि अखिल भारतीय घर वापसी प्रमुख और धर्म सेना छत्तीसगढ़ के प्रदेश संरक्षक प्रबल प्रताप सिंह जूदेव और हिंदू वाहिनी के राष्ट्रीय सह सचिव कौशलेंद्र सिंह की उपस्थिति में समारोह का आयोजन किया गया। इसमें घर वापसी कार्यक्रम में हिंदू धर्म से दूसरे धर्म में गए लोगों के पैर धोकर पूरे हिंदू रीति-रिवाज से उनकी घर वापसी कराई गई। वर्तमान में हिंदू धर्म के लगभग प्रत्येक समाज के लोग धर्मांतरण के जाल में फंसकर धर्मांतरित हो रहे हैं। इसलिए पहली बार कार्यक्रम के दौरान सभी जिले में रहनेवाले हिंदू समाज के दो-दो प्रमुख लोग भी आमंत्रित किए गए थे। घर वापसी कार्यक्रम से जुड़कर हिंदू धर्म में परिवारों की वापसी के लिए अहम भूमिका निभाने वाले समाज प्रमुखों को भी सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने कहा कि मेरे पिताजी स्व. दिलीप सिंह जूदेव के इस घर वापसी के कार्यक्रम को मैं चलाता आ रहा हूं जिसमे मेरा साथ देने के लिए मैं आप सभी का आभारी हूं। आज हिंदुत्व किसी जाति का नही राष्ट्रीयता का प्रतीक है इतिहास गवाह है जहां हिंदू घटा है देश बंटा है। इसीलिए हिंदू बचाना मंदिर बनाने से भी बड़ा कार्य है क्योंकि हिंदू ही मंदिर बनाएगा मंदिर हिंदू नही। सम्मेलन में उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि मैं विरोधियों को चुनौती देता हूं ये धर्मांतरण का घिनौना कार्य बंद कर दो अन्यथा इसका दूरगामी परिणाम विचारणीय होगा।
प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने बताया कि आज कोरबा जिले के कटघोरा में 101 धर्मांतरित परिवारों के पांव पखारकर घर वापसी कराई गई। पिता के घर वापसी कार्यक्रम को निरंतरता रखने के लिए हम पूरी ताकत, मेहनत, लगन से लगे हैं. जब तक आखरी धर्मांतरित हिंदू दोबारा अपने सनातनी धर्म में नहीं जुड़ता, तब तक संघर्ष जारी रखेंगे। हमारा मानना है कि मजबूत और संगठित हिन्दू भारत को दोबारा विश्व गुरु बनाएगा।
कोरबा जिले में हिंदूवादी 17 संगठन हैं। उन्हें भी कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था जिनका सम्मान किया गया। इस बारे में धर्म सेना के प्रदेशध्यक्ष सुरेंद्र बहादुर सिंह ने कहा कि पहले पिछड़े क्षेत्र के लोगों का ही धर्मांतरण हो रहा था, लेकिन पिछले कुछ सालों में धर्मांतरण तेजी से बढ़ा और शहरी क्षेत्र में हिंदू धर्म के सभी समाज के लोग धर्मांतरण के शिकार होने लगे। धर्मांतरण की मुख्य वजह संबंधित धर्म के लोगों की ओर से प्रलोभन देना है. ऐसे परिवारों के हिंदू धर्म में वापसी के लिए घर वापसी कार्यक्रम चलाया जा रहा है।
बता दें कि कोरबा में लगातार दूसरे धर्म में गए लोगों को समझा बुझाकर उनकी घर वापसी कराई जाएगी. कुल 101 परिवार आज कटघोरा के सांस्कृतिक भवन में आयोजित कार्यक्रम वापस सनातन धर्म को अपनाया। कार्यक्रम प्रमुख रूप से कौशलेंद्र सिंह, रामाश्रय पांडेय, बिलासपुर सम्भागाध्यक्ष विष्णु पटेल, कार्यक्रम अध्यक्ष आत्मा नारायण पटेल, छत्तीसगढ़ प्रदेश अध्यक्ष सुरेंद्र बहादुर सिंह, जिलाध्यक्ष साकेत शर्मा, पवन अग्रवाल, बजरंग पटेल, नवीन गोयल, पीयूष गोयल , सेंटी गर्ग , ज्योति प्रकाश व बड़ी संख्या हिन्दू धर्मावलंबियों के साथ आसपास से आये ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button