BilaspurCHHATTISGARHJanjgir-ChampaKORBARaipurSaktiSurajpurSurguja

3 साल से DMF की नाली का इंतजार,पहली किश्त दबा बैठे,रिकव्हरी-FIR सब ठंडे बस्ते में

0 जिले भर में स्वीकृत हुए सैकड़ों कार्य अप्रारंभ, जनता को नहीं मिल रहा सुविधाओं का लाभ
कोरबा। काफी कोशिशों और इंतजार के बाद जनसुविधा के लिए कार्य की स्वीकृति प्रदान होती है लेकिन स्वीकृति के बाद इन कार्यों की शुरूआत और समापन के प्रति गंभीरता नहीं दिखाई जाती। इसके कारण मूलभूत सुविधाओं की कमी से जनता हर साल जूझती रहती है और समस्या यथावत रह जाती है। स्थिति तब दुर्भाग्यपूर्ण कही जा सकती है जब शासन के द्वारा कार्य के लिए राशि भी जारी कर दी जाए लेकिन काम एक ढेला भी न हो।
जिले भर के सैंकड़ों ग्राम पंचायतों में इस तरह के हालात बने हुए हैं जहां निर्माण के लिए पहली किश्त की राशि आहरण कर लेने के बाद निर्माण कार्य से पूरी रह मुंह फेर लिया गया है। ऐसा ही एक और मामला करतला जनपद पंचायत के अंतर्गत ग्राम पंचायत करतला में सामने आया है जहां जिला खनिज न्यास मद से क्रियान्वयन एजेंसी ग्राम पंचायत करतला द्वारा प्रेषित प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की गई। आरसीसी नाली का निर्माण वरूण के घर से गेरांव मार्ग तक किया जाना है। इसके लिए प्रथम किश्त की राशि 27 नवंबर 2021 को जारी कर ग्राम पंचायत को चेक के माध्यम से भुगतान किया गया। तब से लेकर आज पर्यन्त नाली संबंधी कोई भी कार्य नहीं हो सका है। इस मामले में 6 अप्रैल 2023 को संबंधित उप अभियंता के द्वारा स्थल मुआयना किया गया तब कार्य बंद स्थिति में मिला। 7 लाख 92 हजार रुपए प्रथम किश्त मिलने के बाद भी सरपंच/सचिव के द्वारा कार्य प्रारंभ भी नहीं कराया गया। अब इन्हें जनपद पंचायत सीईओ के द्वारा अंतिम बार नोटिस जारी कर एक सप्ताह के भीतर कार्य प्रारंभ कराने कहा गया है। ऐसा न होने पर जारी राशि की वसूली हेतु प्रकरण एसडीएम के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।
0 वर्षों से पुलिया के निर्माण कार्य भी अप्रारंभ,बारिश में फिर होगी दिक्कत
इसी तरह ग्राम पंचायत करतला के पातालपाली मार्ग में पुलिया हेतु जिला खनिज संस्थान न्यास मद से 10 लाख रुपए स्वीकृत किया गया। 28 नवंबर 2020 को स्वीकृत कार्य के तहत पातालपाली मार्ग में सुखसिंह के खेत के पास पुलिया निर्माण हेतु तात्कालीन सरपंच को जनपद पंचायत द्वारा 4 लाख प्रदाय किया गया किन्तु दो साल बाद भी कार्य अप्रारंभ रहा। स्थल पर सामाग्री गिरायी गयी किन्तु पंचायत ने कार्य प्रारंभ नहीं कराया जिससे सचिव/पूर्व सरपंच के पास 4 लाख रुपए बकाया है। आरईएस उप संभाग करतला के एसडीओ द्वारा सचिव/सरपंच के विरुद्ध धारा 92 की कार्यवाही हेतु सितंबर 2022 में जनपद सीईओ करतला को पत्र लिखा गया किन्तु आज पर्यंत भी स्थिति जस की तस है। करतला जनपद क्षेत्र में ही वर्ष 2020-21 में मयाराम के खेत से बांसाखर्रा मार्ग पर पुलिया निर्माण के लिए 4 लाख रुपए प्रथम किश्त 30 दिसंबर को भुगतान किया गया। 6 अप्रैल 2023 की स्थिति में कार्य बंद पाया गया तब सरपंच, सचिव को अंतिम नोटिस जारी की गई लेकिन इसके बाद भी सब कुछ वैसा ही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button