CHHATTISGARHKORBA

BALCO सड़क सुरक्षा संस्कृति को दे रहा बढ़ावा

0 विभिन्न पहल के माध्यम से किया जा रहा है जागरुक

कोरबा-बालकोनगर। वेदांता समूह की कंपनी भारत एल्यूमिनियम कंपनी लिमिटेड (बालको) ने इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल), कोरबा बल्क पेट्रोलियम टर्मिनल प्लांट में लाइव फायर ड्रिल प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया। व्यापक अग्नि सुरक्षा प्रशिक्षण में 50 से अधिक कर्मचारियों को विभिन्न प्रकार की आग से निपटने तथा रोकथाम के लिए विभिन्न उपायों को अपनाने के बारे में प्रशिक्षित किया गया। प्रशिक्षण में अग्नि आपात स्थितियों से निपटने के लिए प्रोटोकॉल तथा सीपीआर प्रशिक्षण भी शामिल था।

बालको एक औद्योगिक संगठन के रूप में समुदाय की सुरक्षा और भलाई को प्राथमिकता दिया है। सड़क सुरक्षा जागरूकता अभियान के तहत कंपनी ने विभिन्न पहल का आयोजन किया है। कंपनी संयंत्र में परिसर के साथ-बालको टाउनशिप में यातायात नियमों को लागू करके सभी सड़क उपयोगकर्ताओं के लिए एक सुरक्षित वातावरण बनाने में भी योगदान दे रहा है।

0बालको के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं निदेशक राजेश कुमार:
बालको के सीईओ श्री कुमार ने कहा कि सुरक्षा हमारी पहली और सर्वोपरी प्राथमिकता है जो कंपनी की कार्य संस्कृति में शामिल है। सुरक्षा के प्रति हमारी प्रतिबद्धता सिर्फ नियमों का पालन करना नहीं है बल्कि यह हमारे कार्य करने के तरीके में समाहित है। कंपनी अपने संयंत्र के साथ-साथ समुदाय की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कटिबद्ध है। कंपनी सड़क सुरक्षा पर विभिन्न पहल क मदद से कर्मचारियों के साथ-साथ स्कूल के विद्यार्थियों तथा लोगों में जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है।

0 बालकोनगर थाना प्रभारी अभिनव कांत सिंह:
थाना प्रभारी श्री सिंह ने सभी से सड़क यातायात नियमों का पालन करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि वाहन चलाते सभी लोग हेलमेट और सीट बेल्ट का प्रयोग अवश्य करें। हम सड़क दुर्घटनाओ मे कमी लाने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं और इस संकल्प को पूरा करने के लिए सभी नागरिकों की भूमिका महत्वपूर्ण है। बालको ने वाहनों के सुरक्षित आवागमन को सुनिश्चित करने के लिए भरपूर सहयोग दिया है। सड़क सुरक्षा को देखते हुए बालको द्वारा थर्मोप्लास्टिक मार्किंग, स्पीड ब्रेकर, जेब्रा क्रॉसिंग और रेट्रो-रिफ्लेक्टिव साइनबोर्ड लगाना सराहनीय कार्य है।

0 बालकोनगर वार्ड-39 के पार्षद लुकेश्वर प्रसाद चौहान:
पार्षद श्री चौहान ने कहा कि बालको अपने सामुदायिक विकास पहल के मदद से समुदाय में सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न पहल किये है। औद्योगिक संगठन के रूप में कंपनी ने हमेशा समुदाय की सुरक्षा और भलाई को प्राथमिकता दिया है। उन्होंने बताया कि कंपनी ने स्कूल के बच्चों को सड़क सुरक्षा संबंधित सभी नियमों से लगातार अवगत करवाने का प्रयास किया है। छात्र-छात्राएं भविष्य के ड्राइवर हैं कंपनी इस बात को गंभीरता से समझते हुए उन्हें जागरूक करने का कार्य कर रहा है।

0 बालको के सड़क सुरक्षा गार्ड दिलीप कुमार:

सुरक्षा गार्ड दिलीप कुमार ने कहा कि कंपनी सभी की सुरक्षा को सुनिश्चित करते हुए बालको संयंत्र परिसर में 30 और टाउनशिप में 40 किलोमीटर प्रति घंटे की गति सीमा तय की है। मुझे खुशी है कि कंपनी द्वारा सुरक्षा संस्कृति को मजबूती प्रदान करने में मेरी भी भागीदारी है। स्पीडोमीटर की मदद से हम सड़क पर गति सीमा से तेज चलने वाले वाहनों की निगरानी करते हैं। कंपनी में ट्रैफिक नियमों का पालन पूरी तरह से किया जाता है।

विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से बालको युवाओं के अंदर सुरक्षा संस्कृति को प्रोत्साहित करने के लिए प्रतिबद्ध है। सर्वमंगला मंदिर के डायवर्सन से रिंग रोड पर भारी वाहनों के बढ़े दबाव को देखते हुए कंपनी ने रिश्दी से ध्यानचंद चौक तक की सड़क के जिर्णोद्धार सहित रिश्दी से रुमगढ़ा तक जगह-जगह पर चौड़ीकरण का कार्य किया। वाहनों के सुरक्षित आवागमन को सुनिश्चित करने के लिए कंपनी ने 6 किमी तक थर्मोप्लास्टिक मार्किंग सहित विभिन्न मार्गों पर 12 स्पीड ब्रेकर, कई जेब्रा क्रॉसिंग और 40 रेट्रो-रिफ्लेक्टिव साइनबोर्ड तैनात किया है। कंपनी ने आग से बचाव के उपाय पर जागरूकता बढ़ाने के लिए विभिन्न प्रशिक्षण सत्र भी आयोजित किये। कंपनी निरंतर जागरूकता और शैक्षिक पहल के माध्यम से समुदाय के भीतर सुरक्षा संस्कृति को मजबूत करने के लिए कटिबद्ध है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button