BalodBaloda BazarBalrampurBastarBemetaraBijapurBilaspurCHHATTISGARHGariabandJashpurKORBARaipur

FIR पर बोले भूपेश: राजनीतिक बदले की भावना से दर्ज कराया मामला

रायपुर। महादेव सट्टा एप्प मामले में EOW द्वारा दर्ज FIR में अपना नाम आने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने EOW द्वारा 4 मार्च को दर्ज FIR को 14 दिन बाद दिल्ली के अख़बार में प्रकाशित किये जाने पर ही सवाल उठा दिया और आरोप लगाया कि विशुद्ध रूप से राजनितिक बदले की भावना से इस FIR में उनका नाम शामिल किया गया है।

0 राजनांदगांव में चुनाव हार चुकी भाजपा
भूपेश बघेल ने कहा कि राजनांदगांव लोकसभा चुनाव में वे प्रत्याशी हैं और यहां के 13- 14 दिनों के सर्वे में BJP को अहसास हो गया है कि वह हार रही है, इसलिए आज महादेव सट्टा एप्प मामले में मेरे नाम दर्ज FIR को उजागर किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में पूरे प्रदेश में भाजपा को नुकसान होने वाला है और वे सरकार द्वारा कराये गए इस तरह के FIR से डरने वाला नहीं हैं।

0 72 FIR और सैकड़ों गिरफ़्तारियां
भूपेश बघेल ने कि महादेव सट्टा के मामले में उनके कार्यकाल में सन 2022 से सर्वाधिक 74 FIR दर्ज हुए, 450 से अधिक लोगों की गिरफ्तारियां हुईं। और आज उन्हें (भूपेश) ही कटघरे में खड़ा किया जा रहा है। इन कार्रवाइयों के दौरान सैकड़ों इलेक्ट्रॉनिक सामग्रियां जब्त की गईं। पूरे देश में केवल छत्तीसगढ़ में महादेव सट्टे के खिलाफ कार्रवाई की गई। अब उल्टे सट्टे के मामले में दर्ज FIR में उनका नाम भी जोड़ दिया गया है।

0 आज भी जारी है महादेव सट्टा एप
पत्रवार्ता में भूपेश बघेल ने आरोप लगाया कि जिस महादेव सट्टे के खिलाफ EOW ने FIR दर्ज किया है, वह आज भी पूरे देश में संचालित हो रहा है। अपनी सरकार में उन्होंने विदेश से सट्टा संचालित कर रहे सौरभ चंद्राकर और रवि उप्पल को पकड़ने के लिए केंद्र सरकार से अनुरोध किया था, मगर केंद्र आज तक इन आरोपियों को पकड़ नहीं पाई। उल्टे कहानी में ट्विस्ट लाते हुए शुभम सोनी की इंट्री कराई गई। भूपेश बघेल ने आरोप लगाया कि शुभम सोनी का VIDEO भाजपा कार्यालय से जारी किया गया। वहीं दुर्ग के जिस असीम दास से रायपुर में करोड़ों रूपये की जब्ती की गई, उससे झूठा बयान दर्ज कराते हुए उनका नाम लिया गया। जबकि जिस गाड़ी में रूपये बरामद हुए, वह भाजपा के दिग्गज नेता के भाई की निकली।
0 भाजपा को सट्टेबाजों से सर्वाधिक चन्दा
भूपेश बघेल ने वर्तमान इलेक्टोरल बांड की चर्चा करते हुए कहा कि आज भाजपा मुझ पर सटोरियों से प्रोटेक्शन मनी मिलने का आरोप लगा रही है, जबकि सच तो यह है कि भारतीय जनता पार्टी को सट्टा और लॉटरी चलाने वाले ‘फ्यूचर गेमिंग’ से सर्वाधिक चन्दा मिला है। उन्होंने भाजपा सरकार पर सटोरियों को संरक्षण देने का आरोप लगाया।
0 FIR में मेरा कहीं जिक्र नहीं
4 मार्च को दर्ज FIR में 6 वें नंबर पर अपने नाम की चर्चा करते हुए भूपेश बघेल ने कहा कि FIR में जो मजमून है, उसमें उनके नाम का जिक्र कहीं पर नहीं है। इसमें अधिकारियों और राजनेताओं को ‘प्रोटेक्शन मनी’ देने का जिक्र है। अगर ऐसा है तो इसमें केवल उनका नाम क्यों डाला गया ? अधिकारियों का नाम FIR में दर्ज क्यों नहीं किया गया? उन्होंने आरोप लगाया कि केवल उन्हें बदनाम करने की नीयत से ऐसा किया गया है। भूपेश बघेल ने कहा कि प्रोटेक्शन मनी देने का मतलब पैसे लो और कार्रवाई मत करो, मगर उनकी सरकार में तो सट्टे के खिलाफ सर्वाधिक कार्रवाई की गईं। उन्होंने एक बार फिर कहा कि राजनांदगांव में भाजपा हार रही है, इसलिए महादेव सट्टे में मेरे नाम का उल्लेख करते हुए मुझे बदनाम करने की कोशिश की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button