BilaspurCHHATTISGARHDhamtariGariabandJanjgir-ChampaJashpurKankerKondagaonKORBAKoriyaMahasamundNarayanpurRaigarhRaipurSaktiSarangarh-BilaigarhSukmaSurajpurSurguja

KORBA:अवैध खनन की भेंट चढ़ रहे सरकारी मुरूम और मिट्टी

0 बन रहे विशाल गड्ढों से हादसे की आशंका बढ़ी
0 5 लोगों का सिंडिकेट तोड़ नहीं पा रहा है विभाग
कोरबा। शहर से लगे निगम क्षेत्र के ग्राम दादर से ढेलवाडीह के बीच सरकारी जमीन का कबाड़ा कर मुरुम और मिट्टी का अवैध उत्खनन जोरों से चल रहा है। इस मामले में राजू, सोनू, महंत, ठाकुर व बबलू का नाम सामने आ रहा है जो अलग-अलग काम धंधों में लगे हैं लेकिन इस मामले में सत्ता पक्ष के एक बड़े नेता के लोगों का संरक्षण प्राप्त होने से सिंडिकेट बनाकर काम कर रहे हैं।
सरकारी जमीन में खुलेआम मुरूम और मिट्टी का अवैध उत्खनन पर विभागीय अधिकारियों ने यहां एक बार भी कदम न रखा है न कार्रवाई की है। नगर निगम क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 9 ढेलवाडीह में दिन-रात खुलेआम मशीन लगा कर अवैध उत्खनन जारी है।
विश्वसनीय सूत्र बताते है कि खनिज विभाग की ओर से मुरूम और मिट्टी उत्खनन के लिए अनुमति नहीं दी गई है, लेकिन इसके बाद भी यहां जेसीबी व पोकलेन से दिन रात खुदाई करने के साथ अवैध परिवहन भी हो रहा है। मानिकपुर खदान के पीछे ढेलवाडीह से लगी सरकारी जमीन में खनिज माफियाओं द्वारा बेतरतीब तरीके से खुदाई के कारण कई बड़े-बड़े गड्ढे बन चुके हैं जो बरसात के मौसम में पानी भरने से हादसे की वजह भी बन सकते हैं।

इस अवैध उत्खनन को रोकने के लिए यहां के जनप्रतिनिधियों ने ना आवाज उठाई है और न ही इसकी शिकायत प्रशासन से की है। कोई विरोध नहीं करने से कहा जा सकता है कि अवैध उत्खनन में जनप्रतिनिधि इन माफियाओं का पूरा सहयोग कर रहे हैं। नियमों को ताक पर रखकर हो रहे अवैध खनिज खनन के संज्ञान में आने पर खनिज विभाग को लगातार कार्रवाई करनी चाहिए लेकिन ऐसा नहीं होता। खनिज विभाग के अधिकारी यह बोलकर बचाव करते हैं कि जिसकी जमीन होती है, वह कुछ पैसे लेकर खनन की अनुमति दे देता है लेकिन इस मामले में तो यह जमीन निजी नहीं राजस्व,वन विभाग को सरकारी जमीन है, इसके बावजूद कार्रवाई का न होना समझ से परे है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button