CHHATTISGARHKhairagarh-Chhuikhadan-GandaiKORBAKoriyaMahasamundManendragarh-Chirmiri-BharatpurMungeliNarayanpurRaigarhRaipurRajnandgaonSaktiSarangarh-BilaigarhSukmaSurajpurSurgujaTOP STORY

पसान में 260 बेटियों के हाथ होंगे पीले,आशीर्वाद देने आएंगे मुख्यमंत्री साय

0 विवाह की तैयारियों में जुटा जिला प्रशासन और महिला बाल विकास

कोरबा। निर्धन परिवार की बेटियों के हाथ पीले होने जा रहे हैं। मुख्यमंत्री कन्या सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत जिले में 260 निर्धन बेटियों का विवाह करने की तैयारी शुरू कर दी गई है। लोकसभा चुनाव के लिए मार्च के पहले पखवाड़े में संभावित आदर्श आचार संहिता के पूर्व 25 फरवरी को पसान में सामूहिक विवाह की तैयारियों में जिला प्रशासन जुट गया है।
निर्धन परिवार के समक्ष अपनी बिटिया के हाथ पीले करने में दिक्कतों को देखते हुए इस चिंता से मुक्त करने छत्तीसगढ़ सरकार ने वर्ष 2004 से मुख्यमंत्री निर्धन कन्या सामूहिक विवाह योजना शुरू की है। इसके अंतर्गत छत्तीसगढ़ के मूल निवासी ऐसे निर्धन परिवार जिनके यहां 18 साल से अधिक आयु की विवाह योग्य कन्या है, उनका विवाह सरकार अपने खर्चे पर संपन्न कराकर चिंतामुक्त कर रही है। चालू वित्तीय वर्ष 2023 -24 में प्रति जोड़े निर्धारित राशि 50 हजार रुपए की दर से 260 जोड़ों के लिए 1 करोड़ 30 लाख रुपए का आबंटन प्राप्त हुआ है । लोकसभा चुनाव के लिए मार्च माह के पहले पखवाड़े में ही 10 से 12 मार्च के बीच आदर्श आचार संहिता लागू होने के आसार हैं ,25 फरवरी को मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय का कोरबा आगमन हो रहा है। जिले के पोंडी उपरोड़ा ब्लॉक के सरहदी क्षेत्र पसान में उनका जिला स्तरीय कार्यक्रम प्रस्तावित है। महिला एवं बाल विकास विभाग, जिला प्रशासन भी उक्त तिथि में ही मुख्यमंत्री कन्या विवाह का यह पुनीत आयोजन करने जा रही है। कलेक्टर अजीत वसंत के निर्देश के बाद डीपीओ प्रीति खोखर चखियार ने अल्पसमयावधि में उक्त वृहद स्तर के आयोजन को संपन्न कराने की तैयारी शुरु कर दी है।
जिले में कुल 10 एकीकृत बाल विकास परियोजना हैं जिनके अधीन 2599 आंगनबाड़ी केंद्र हैं ,इनमें 2291 मुख्य एवं 308 मिनी आंगनबाड़ी केंद्र शामिल है। प्रत्येक परियोजना को 26 -26 जोड़ों का लक्ष्य आबंटित किया गया है। जिसके लिए 13 -13 लाख रुपए का बजट जिला से पुनराबँटित कर दिया गया है।
0 बेटियों को मिलेगा 21 हजार रुपए का चेक
मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत स्वीकृत 50 हजार रुपए प्रति जोड़े प्रोत्साहन राशि में से योजनांतर्गत लाभान्वित होने वाले जोडों को 21 हजार रुपए का चेक प्रदान किया जाएगा। शेष 29 हजार की राशि में वर वधु के कपड़े, श्रृंगार, दैनिक जीवन के उपयोग में आने वाली सामाग्रियों की खरीदी के साथ-साथ विवाह आयोजन का पूरा खर्च वहन किया जाएगा।
0 प्रक्रिया अंतिम चरण में,तय की गई हैं जिम्मेदारियां
डीपीओ,महिला एवं बाल विकास विभाग प्रीति खोखर चखियार ने कहा है कि मुख्यमंत्री कन्या सामूहिक विवाह योजना अंतर्गत चालू वित्तीय वर्ष में 260 जोड़ों का लक्ष्य मिला है । 25 फरवरी को मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के प्रस्तावित कार्यक्रम के दौरान पसान में सामूहिक विवाह का आयोजन की तैयारी कर रहे हैं जो अंतिम चरण पर है। परियोजना स्तर पर समानुपातिक लक्ष्य आबंटित कर चिन्हांकित पात्र जोड़ों का विवाह संपन्न कराएंगे। विभाग के अधिकारी व कर्मचारियों की जिम्मेदारी इस हेतु तय कर दी गई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button